खास खबर भड़ास

जम्मू कश्मीर में सेना की पेट्रोलिंग पार्टी पर आतंकी हमला

Terrorist attack on army's petroling party

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर के बांदीपोरा जिले में शुक्रवार (18 मई) को आतंकवादियों ने सेना के एक गश्ती दल पर हमला किया. हालांकि, इस हमले में किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है. सेना सूत्रों के मुताबिक, आतंकवादियों ने हाजिन क्षेत्र में सेना के गश्ती दल पर हमला किया. सूत्रों के मुताबिक, “इसके बाद दोनों ओर से गोलीबारी शुरू की गई, जिस बीच आतंकवादी बचकर भाग निकलने में कामयाब रहे. हमारी तरफ से कोई हताहत नहीं हुआ. क्षेत्र को चारों ओर से घेर लिया गया है.” केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा रमजान के पाक महीने के दौरान संघर्षविराम के ऐलान के बाद यह सुरक्षाबलों पर पहला हमला है. लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) ने केंद्र सरकार द्वारा घोषित संघर्षविराम को नकार दिया है.

वहीं दूसरी ओर जम्मू के अरनिया सेक्टर में भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा (आईबी) पर पाकिस्तान की ओर से की गई गोलीबारी में शुक्रवार (28 मई) तड़के बीएसएफ का एक जवान शहीद हो गया और एक अन्य घायल हो गया। अधिकारी ने बताया कि शहीद जवान की पहचान 28 वर्षीय कांस्टेबल सीताराम उपाध्याय के तौर पर हुई है। वह झारखंड के गिरीडीह के रहने वाले थे और 2011 में बल में शामिल हुए थे। उन्होंने बताया कि उपाध्याय का तीन वर्षीय बेटा और एक वर्षीय बेटी है।

सीमा सुरक्षा बल के वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘16 और 17 मई की दरमियानी रात हीरानगर इलाके में गोलीबारी हुई जिसमें बीएसएफ का एक जवान घायल हो गया। कल (17 मई) दिन में गोलीबारी रुक गई थी, लेकिन पाकिस्तान ने रात में अरनिया सेक्टर में फिर गोलीबारी शुरू की जिसमें आज (18 मई) सुबह एक जवान की मौत हो गई।’’

अधिकारी ने बताया कि जम्मू में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास आरएस पुरा सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से बिना किसी उकसावे के आज (शुक्रवार, 18 मई) सुबह करीब चार बजे मोर्टार दागे गए और भारी गोलीबारी की गई। बीएसएफ बल ने भी इसका माकूल जवाब दिया। उन्होंने बताया, ‘‘आरएस पुरा सेक्टर में रुक-रुककर गोलीबारी जारी है।’’ अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पिछले कुछ दिनों से बिना किसी उकसावे के गोलीबारी और घुसपैठ की घटनांए बढ़ गई हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार (19 मई) को आधिकारिक यात्रा पर जम्मू-कश्मीर पहुंचने वाले हैं