खास खबर मीडिया मिर्ची

स्मार्ट सिटी मिशन: पायलट पोजेक्ट के लिए ABB इंडिया ने मिला आईआईटी रूड़की का साथ

Smart City Mission

नई दिल्ली: ABB (इंडिया) लिमिटेड ने तकनीकी सहयोग प्रदान करने के लिए आईआईटी रूड़की के साथ एमओयू साइन किया है ताकि कैंपस में ऑपरेशनल स्मार्ट इलेक्ट्रिसिटी वितरण नेटवर्क और प्रबंधन सिस्टम का निर्माण किया जा सके. इस कदम का उद्देश्य पायलट प्रोजेक्ट के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्मार्ट सिटी मिशन को गति देना है.

इस पहल के बारे में बात करते हुए एबीबी इंडिया के प्रबंध निदेशक संजीव शर्मा ने बताया, “पावर वितरण को कार्यकुशलता के साथ प्रबंधित करने के लिए स्मार्ट ग्रिड और इंटेलीजेंट ऑटोमेशन की अवधारणा के प्रमाण रूप में यह समझौता किया गया है. यह भारत के पावर विजन को हकीकत में बदलेगा और एबीबी के लक्ष्य को पूरा करेगा.”

आईआईटी रूड़की के निदेशक प्रोफेसर अजित चतुर्वेदी ने भी इस नए कदम की तारीफ की. उन्होंने कहा, “एबीबी के साथ स्मार्ट एनर्जी मैनेजमेंट और वितरण अनुबंध के चलते हम 100 फीसदी ग्रीन कैंपस बनाने तथा भविष्य में शून्य कार्बनडाइ-ऑक्साइड के उत्सर्जन के लक्ष्य के और नजदीक पहुंच गए हैं.”

उन्होंने आगे कहा, “आईआईटी रूड़की सोलर एनर्जी का इस्तेमाल न केवल बिजली उत्पादन के लिए करता रहा है बल्कि अपने सभी हॉस्टल और कैंपस के रहवासियों को गर्म पानी की सुविधा भी सीधी उपलब्ध करा रहा है इसके अलावा, होस्टल में सोलर एनर्जी से खाना तैयार किया जा रहा है.”

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 25 जून 2015 को स्मार्ट सिटी मिशन की शुरुआत की थी जिसमें शुरुआत में 100 शहरों का चयन किया गया था. चुने गए शहरों में कई तरह के प्रोजेक्ट मसलन ‘स्मार्ट रोड’, पानी निकासी की नई व्यवस्था, साइकिल ट्रैक, पैदलपाथ और स्मार्ट क्लासरूम जैसी कई सुविधाओं को शामिल किया जाना शामिल है. इस योजना के तहत, प्रत्येक शहर को केंद्र से विभिन्न परियोजनाओं के क्रियान्वयन के लिए 500 करोड़ रुपये मिलेंगे. इतनी ही राशि राज्य सरकार द्वारा या शहरी निकाय द्वारा दिए जाएंगे.