खास खबर भड़ास

सीटों पर बिगड़ रही बात? जेडीयू प्रवक्ता बोले- बिहार में नीतीश एनडीए का चेहरा

bihar-620x400

जनता दल (यूनाइटेड) ने ऐलान कर दिया है कि बिहार में नीतीश कुमार ही एनडीए का चेहरा होंगे। रविवार शाम को पटना में जेडीयू कोर कमेटी की बैठक हुई थी, जिसमें तय किया गया कि बिहार में जेडीयू ‘बड़े भाई’ की भूमिका निभाएगा। इसके तहत जेडीयू बिहार की 25 सीटों पर चुनाव लड़ेगी, जबकि भाजपा के खाते में 15 सीटें जाएंगी। जेडीयू की इस बैठक में पार्टी के महासचिव केसी त्यागी, पवन वर्मा और पार्टी के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर समेत कई वरिष्ठ नेताओँ ने शिरकत की। बैठक के बाद जेडीयू के नेता अजय आलोक ने एएनआई से बात करते हुए बताया कि सीटों के बंटवारे को लेकर जेडीयू में कोई असमंजस की स्थिति नहीं है। हम 25 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे और भाजपा 15 सीटों पर। चूंकि अब कई और सहयोगी भी गठबंधन के साथ जुड़ चुके हैं, ऐसे में सीटों के बंटवारे पर शीर्ष नेता तय करेंगे। अजय आलोक ने कहा कि बिहार में एनडीए का चेहरा नीतीश कुमार होंगे।
वहीं जेडीयू के इस बंटवारे पर राजद नेता तेजस्वी यादव ने तंज कसा है। एक ट्वीट कर तेजस्वी यादव ने कहा कि सुशील मोदी बताएं क्या नीतीश जी बिहार में नरेंद्र मोदी से बड़े व ज्यादा प्रभावशाली नेता हैं? नीतीश जी के प्रवक्ता सुशील मोदी क्या अब भी जेडीयू के हाथों अपने सबसे बड़े नेता को बेइज्जत कराते रहेंगे? नीतीश जी ने कहा था कि उन्होंने सुशील मोदी के कहने से भोज से मोदी की थाली खींची थी। तेजस्वी यादव के इस ट्वीट को जेडीयू और भाजपा गठबंधन पर करारा तंज माना जा रहा है।

गौरतलब है कि आगामी 7 जून को बिहार में भाजपा नीत एनडीए की बैठक होने जा रही है। ऐसे में उस बैठक से पहले जेडीयू की कोर कमेटी की बैठक को काफी अहम माना जा रहा है। दरअसल खबरें हैं कि 7 जून को होने वाली एनडीए की बैठक में आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर रणनीति तय की जा सकती है। बता दें कि एनडीए में भाजपा और जेडीयू के अलावा बिहार की 2 अन्य पार्टियां राम विलास पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी और उपेन्द्र कुशवाहा की राष्ट्रीय लोकसमता पार्टी भी शामिल है। पिछले लोकसभा चुनाव में बिहार की 40 लोकसभा सीटों में से भाजपा ने 22 सीटों पर जीत दर्ज की थी। ऐसे में देखने वाली बात होगी कि जेडीयू द्वारा 25 सीटों पर दावा किए जाने के बाद भाजपा की इस पर क्या प्रतिक्रिया होती है?