खास खबर

IPL 2018 : दिल्ली को हराकर जीत की राह पर आना चाहेगी कोलकाता की टीम

Gautam-and-DK-PTI-and-IANS

कोलकाता : लगातार दो मैच हार चुकी इंडियन प्रीमियर लीग की दो बार की चैंपियन कोलकाता के सामने सोमवार को अपने पूर्व कप्तान गौतम गंभीर की कप्तानी वाली दिल्ली से पार पाने की चुनौती होगी. गंभीर ने कोलकाता को 2012 और 2014 में चैंपियन बनाया था और लेकिन इस बार लीग के 11वें सीजन में वे दिल्ली के कप्तान हैं. दिल्ली की टीम अपने पिछले मुकाबले में तीन की चैंपियन मुंबई इंडियंस को आखिरी गेंद पर सात विकेट से हराकर जीत की पटरी पर लौट चुकी हैं. वहीं कोलकाता पहला मैच जीतने के बाद अगले दो मैच हारकर जीत की पटरी से उतर चुकी है.

दिनेश कार्तिक की कप्तानी वाली कोलकाता के सामने सबसे बड़ी चुनौती दिल्ली के ओपनर जैसन रॉय को रोकने की होगी जिन्होंने पिछले मुकाबले में मुंबई के खिलाफ छह चौकों और छह छक्कों की मदद से 53 गेंदों पर 91 रन की नाबाद पारी खेलकर दिल्ली को लीग में पहली जीत दिलाई थी.

कोलकाता के लिए चिंता की बात यह है कि उसके अगर बल्लेबाज चलते हैं तो गेंदबाज विफल रहते हैं और अगर गेंदबाज चलते हैं बल्लेबाज असफल रहते हैं. टीम चेन्नई के खिलाफ 202 रनों का बचाव करने में विफल रही थी जबकि हैदराबाद के खिलाफ उसके बल्लेबाज 138 रन ही बना सके थे. इसके अलावा कोलकाता पर अपने ही घर में जीतने का खासा दबाव होगा. पिछले मैच में अपने ही घर में उसे हैदराबाद ने मात दी थी.

आईपीएल 2018 : कोलकाता को हराकर हैदराबाद ने लगाई जीत की हैट्रिक

वहीं दूसरी तरफ दिल्ली की टीम लीग में अपना खाता खोल चुकी है और इससे उनका आत्मविश्वास बढ़ा है. दिल्ली के बल्लेबाज फार्म में लौट चुके हैं. दिल्ली के लिए गेंदबाजी अभी भी परेशानी का कारण बना हुआ है. दिल्ली के गेंदबाज तीन मैच में अब तक विफल रहे हैं. जिस तरह से मैच अंतिम गेंद पर गया और दिल्ली के गेंदबाजों ने मुंबई को पहले बल्लेबाजी करते हुए 194 रन बनाने दिए. दिल्ली को इस मैच के लिए खास रणनीति अपनानी होगी. वहीं तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी अपने घरेलू मामले के कारण अब घर लौटेंगे.

इन खिलाड़ियों पर रहेगी सभी की नजर
दिल्ली के जेसन रॉय जहां सभी की निगाहों में रहेंगे. वहीं कोलकाता के सुनील नरेन, जिन्होंने पहले मैच में 15 गेंदों में ही अर्धशतक लगा कर मैच को अपनी टीम की ओर पूरी तरह से झुका दिया था, पर सबकी नजर होगी. गेंदबाजों में दिल्ली के मोहम्मद शमी की गैरमौजूदगी होगी लेकिन ट्रेंट बाउल्ट, क्रिस्टीयन और तेवतिया पर सबकी नजर होगी जिन्होंने मुंबई के खिलाफ दो-दो विकेट लिए थे. वहीं कोलकाता के गेंदबाजों में सुनील नरेन मिशेल जॉनसन और कुलदीप यादव खास गेंदबाज होंगे.

दिल्ली और कोलकाता ने एक दूसरे के खिलाफ अब तक कुल 20 मुकाबले खेले हैं जिसमें कोलकाता ने 12 और दिल्ली ने आठ मैच जीते हैं.

टीमें (सम्भावित) :

कोलकाता : दिनेश कार्तिक (कप्तान/विकेटकीपर), आंद्रे रसैल, क्रिस लिन, रोबिन उथप्पा, कुलदीप यादव, पीयूष चावला, नितीश राणा, कमलेश नागरकोटी, शिवम मावी, मिशेल जॉनसन, शुभमन गिल, विनय कुमार, रिंकू सिंह, कैमरून डेलपोर्ट, जेवन सीयरलेस, अपूर्व वानखेड़े, इशांक जग्गी, टॉम कुरेन.

दिल्ली : ऋषभ पंत (विकेटकीपर), श्रेयस अय्यर, ग्लेन मैक्सवेल, अमित मिश्रा, शहबाज नदीम, विजय शंकर, राहुल तेवतिया, मोहम्मद शमी, गौतम गंभीर (कप्तान), ट्रेंट बोल्ट, कोलिन मुनरो, क्रिस मौरिस, विजय शंकर, डेनियल क्रिस्टियन, जैसन राय, नमन ओझा, पृथ्वी शाह, गुरकीरत सिंह मान, अवेश खान, अभिषेक शर्मा, जयंत यादव, हर्षल पटेल, मंजोत कालड़ा, संदीप लामीछाने, सायन घोष, लिया