खास खबर मीडिया मिर्ची

गुजरात चुनाव में ‘ओखी’ की एंट्री,अमित शाह की रैली कैंसिल

amit_shah

गुजरात में चुनाव प्रचार अपने चरम पर है, पहले चरण की वोटिंग को अब चंद ही दिन बचे हैं. लेकिन इसी बीच चक्रवात तूफान ‘ओखी’ ने भी गुजरात का रुख कर लिया है, जिससे चुनाव प्रचार पर असर पड़ रहा है. भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह की मंगलवार को होने वाली राजुला, माहुवा और शिहोर में रैलियों को रद्द कर दिया है.

ओखी तूफान के कारण वहां पर तेज बारिश और हवाएं चल रही हैं, जिसके कारण उस इलाके में हेलिकॉप्टर उतरना आसान नहीं है. यही कारण है कि रैलियों को रद्द कर दिया गया है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के अलावा राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की रैली भी रद्द हो गई है. वसुंधरा को माजूरा, सूरत में रैली को संबोधित करना था.

पहले चरण के प्रचार का अंतिम दौर

आपको बता दें कि गुजरात में पहले चरण के लिए 9 दिसंबर को वोटिंग होगी, इसका मतलब की 7 दिसंबर को प्रचार बंद हो जाएगा. प्रचार के लिए अब दो ही दिन बचे हैं, ऐसे में अमित शाह की रैली का कैंसिल होना कुछ असर डाल सकता है. आपको बता दें कि पीएम मोदी ने भी सोमवार को गुजरात में कई रैलियों को संबोधित किया था. दूसरी तरफ कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी मंगलवार को गुजरात में ही रहेंगे, वह पूरे दिन कई सभाओं को संबोधित करेंगे.

आपको बता दें कि ओखी पिछले कुछ दिनों से दक्षिण भारत में अपना कहर दिखा रहा है. साइक्लोन के अंदर उमड़-घुमड़ रही हवाओं के हिसाब से अब यह इसे अति भीषण साइक्लोन माना जा रहा है. इसमें 150 से 170 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चल रही है और हवा के झोंकों की रफ्तार 180 किलोमीटर प्रति घंटे तक पहुंच जा रही है.

साइक्लोन सेंटर के मुताबिक, उत्तर महाराष्ट्र और दक्षिण गुजरात के समुद्र तटीय इलाकों में 4 दिसंबर की रात से लेकर 6 दिसंबर की सुबह तक 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से लेकर 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार की तेज हवाएं चलेंगी. इस वजह से इन इलाकों में समंदर में ऊंची-ऊंची लहरें उठेंगी. लोगों को समुद्र तट से दूर रहने की सलाह दी गई है.