खास खबर

मध्यप्रदेश प्रेस क्लब में 9 रत्नों का अलंकरण मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने किया अलंकरण

unnamed-

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि समाज द्वारा व्यक्ति का सम्मान उसके कृतित्व की सामाजिक स्वीकृति है। इससे व्यक्ति को बेहतर कार्य करने का आनंद मिलता है। दूसरों को प्रेरित करता है। उन्होंने कहा कि समाज और सरकार द्वारा मिलकर किये गये कार्य ही देश, प्रदेश की प्रगति का आधार होते हैं। सरकार के प्रयासों में समाज के हर व्यक्ति का सहयोग जरूरी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश ने नई ऊँचाईयों को छुआ है।चौहान आज मध्यप्रदेश प्रेस क्लब रजत जयंती वर्ष पर आयोजित मध्यप्रदेश रत्न अलंकरण समारोह को संबोधित कर रहे थे। समारोह में विशिष्ट अतिथि के रूप में जनसंपर्क एवं जल संसाधन मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा मौजूद थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मान्यता है कि पत्रकारिता की दृष्टि आलोचनात्मक होती है। कमियों को उजागर करती है। गड़बड़ियों के साथ ही समाज में होने वाले अच्छे कार्यों और सकारात्मक प्रयासों को भी सामने लाना चाहिये। उन्होंने मध्यप्रदेश प्रेस क्लब द्वारा प्रदेश की प्रतिभाओं को अलंकृत करने की पहल को अभिनंदनीय बताया उसकी सराहना की। प्रतिभाओं को प्रदेश रत्न अलंकरण से सम्मानित किया।

गीतामनीषी महामंडलेश्वर स्वामी ज्ञानानंद जी महाराज ने कहा कि क्षमताओं को बांटने वाला ही सम्मानीय है। उन्होंने समुद्र और बादल के प्रसंग से बताया कि समुद्र जल को स्वयं में संचित करता है। इसलिये खारा रहता है। बादल समुद्र का जल खींचकर वर्षा के रूप में लौटा देता है। इसलिये प्रकृति का वरदान बन जाता है। उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति में निष्ठा, प्रतिभा और ज्ञान को पद प्रतिष्ठा से अधिक सम्मानीय बताया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय की आवश्यकता कर्तव्यों के अहसास की है।

सांसद आलोक संजर ने प्रदेश की प्रतिभाओं के अलंकरण के प्रयासों की सराहना की। अलंकृत प्रतिभाओं का उल्लेख किया। वरिष्ठ पत्रकारों की स्मृति का पुण्य स्मरण भी किया।
प्रेस क्लब की गतिविधियों की जानकारी अध्यक्ष डॉ. नवीन आनंद जोशी ने दी। उन्होंने बताया कि सरकार के साथ मिलकर समाज