खास खबर टी वी तमाशा

Me Too के सपोर्ट में आमिर ख़ान का बड़ा फ़ैसला, छोड़ी दाग़दार निर्देशक की फ़िल्म

aamir-khan-leaves-gulshan-kumar-biopic-mogul-to-be-directed-by-subhash-kapoor-facing-molestation

मुंबई। नाना पाटेकर पर तनुश्री दत्ता के आरोपों के बाद शुरू हुआ #MeToo आंदोलन रंग दिखा रहा है। बॉलीवुड के तमाम कलाकार और फ़िल्मकार इस आंदोलन को सपोर्ट कर रहे हैं और महिलाओं के यौन शोषण के ख़िलाफ़ प्रतिबद्धता दिखा रहे हैं। इसी क्रम में आमिर ख़ान ने एक बड़ा और अहम क़दम उठाया है।

आमिर ख़ान ने यौन शाोषण के आरोपी डायरेक्टर की फ़िल्म छोड़ दी है, जिसकी सूचना उन्होंने ट्विटर पर साझा की है। आमिर ने अपनी पत्नी किरण राव औक ख़ुद की तरफ़ से एक नोट लिखा है, जिसमें फ़िल्म इंडस्ट्री को यौन शोषण और उत्पीड़न ख़िलाफ़ ज़ीरो टॉलरेंस की बात कही गयी है। अंग्रेजी में लिखे इस नोट में कहा गया है-

”क्रिएटिव लोग होने के नाते हम सामाजिक मुद्दों के हल निकालने और प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं, और आमिर ख़ान प्रोडक्शंस में हमेशा से हम यौन दुराचार और महिलाओं के प्रति हिंसक रवैये के प्रति ज़ीरो टॉलरेंस पॉलिसी अपनाते आये हैं। हम किसी भी तरह के यौन उत्पीड़न की भर्त्सना करते हैं और समान रूप ऐसे मामलों में झूठे आरोपों की भी निंदा करते हैं। दो हफ़्ते पहले, जब यातनाप्रद Me Too कहानियां आनी शुरू हुईं, तो यह हमारे संज्ञान में लाया गया कि जिस शख़्स के साथ हम काम शुरू करने वाले थे, उस पर यौन दुराचार के आरोप लगे हैं। पता करने पर, हमें मालूम हुआ कि यह केस अदालत में विचाराधीन है और क़ानूनी कार्रवाई चल रही है।

हम कोई जांच एजेंसी नहीं हैं, और ना ही हम इस स्थिति में हैं कि किसी को लेकर कोई फ़ैसला करें। यह काम पुलिस और क़ानून का है। इसलिए किसी को लेकर कोई पूर्वाग्रह बनाए बिना और इन आरोपों को लेकर किसी निष्कर्ष पर पहुंचे बिना हमने इस फ़िल्म से अलग होने का फ़ैसला किया है। नोट में आगे लिखा गया है कि हम मानते हैं कि फ़िल्म इंडस्ट्री के लिए यह आत्मावलोकन का मौक़ा है, ताकि बदलाव की तरफ़ ठोस क़दम उठाये जा सकें लंबे समय से औरतों यौन शोषण का शिकार होती रही हैं। फ़िल्म इंडस्ट्री को सभी के लिए सुरक्षित और ख़ुशनुमा जगह बनाने के लिए हम सब कुछ करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।”

‘मुगल’ छोड़ने के बाद आमिर के पास अब सिर्फ़ यशराज बैनर की फ़िल्म ‘ठग्स ऑफ़ हिंदोस्तान’ है, जिसकी रिलीज़ की तैयारियों में वो जुटे हैं, जो दिवाली पर आ रही है। विजय कृष्ण आचार्य निर्देशित फ़िल्म में अमिताभ बच्चन, कटरीना कैफ़ और फ़ातिमा सना शेख़ मुख्य भूमिकाओं में हैं।

क्यों लेना पड़ा आमिर को यह फ़ैसला

आमिर ख़ान की पत्नी किरण राव MAMI से जुड़ी हैं और मामी ने मी टू आंदोलन की रौशनी में यह एलान किया था कि दाग़दार फ़िल्ममेकर्स की फ़िल्में इस मुंबई फ़िल्म फेस्टिवल में नहीं दिखाई जाएंगी। मॉडल एक्टर गीतिका त्यागी ने इस फ़ैसले का स्वागत करते हुए सवाल उठाया था कि आमिर ख़ान यौन शोषण के आरोपी निर्देशक सुभाष कपूर के साथ काम कर रहे हैं।

9 अक्टूबर को किये गये गीतिका के इस ट्वीट के बाद एक मशूहर वेब पोर्टल के पत्रकारों ने आमिर ख़ान से इस मामले में जवाब मांगना शुरू कर दिया। जैसे ही आमिर को इस सवाल की संजीदगी समझ में आयी, उन्होंने 10 अक्टूबर की रात को ‘मुगल’ से अलग होने का एलान कर दिया। ग़ौरतलब है कि यह वही फ़िल्म है, जिसे पहले अक्षय कुमार करने वाले थे, मगर स्क्रिप्ट से संतुष्ट ना होने की बात कहकर अक्षय ने फ़िल्म छोड़ दी। इसके बाद प्रोड्यूसर भूषण कुमार ने एक इंटरव्यू में कहा कि वो अक्षय से बड़े स्टार के साथ यह फ़िल्म पूरी करेंगे। फिर आमिर ख़ान इससे जुड़े। सुभाष कपूर की पिछली फिल्म ‘जॉली एलएलबी2’ है, जिसमें अक्षय कुमार ने लीड रोल निभाया था।

क्या है सुभाष कपूर पर उत्पीड़न का आरोप

बॉलीवुड में करियर बनाने के लिए जद्दोजहद कर रहीं एक्ट्रेस गीतिका त्यागी ने निर्देशक सुभाष कपूर पर 2014 में यौन शौषण का आरोप लगाया था। वर्सोवा पुलिस स्टेशन में दर्ज़ शिकायत में गीतिका ने कहा था कि दो साल पहले सुभाष ने उनके साथ ज़बर्दस्ती करने की कोशिश की थी। शिकायत के बाद पुलिस ने सुभाष के ख़िलाफ़ धारा 354, 354 ए, 354 बी और 501 के तहत मामला दर्ज़ किया था और सुभाष कपूर की गिरफ़्तारी भी हुई, मगर उसी दिन उन्हें ज़मानत पर रिहा कर दिया गया। यह मामला तब सुर्ख़ियों में आया था, जब एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें गीतिका को सुभाष कपूर पर हाथ छोड़ते हुए दिखाया गया था।

आमिर से पहले रितिक रोशन भी मी टू के सपोर्ट में निर्देशक विकास बहल के ख़ुद को अलग करने का एलान कर चुके हैं। विकास के निर्देशन में बन रही ‘सुपर 30’ में रितिक लीड रोल में हैं। विकास पर अपनी एक कुलीग के साथ यौन उत्पीड़न करने का मामला चल रहा है।