चीखते सवाल

अमित शाह की रैली में प्रदेश भाजपा ने कोलकाता पुलिस से मांगी ड्रोन उड़ाने की अनुमति

09_08_2018-amitshaha_18296926

बंगाल की भाजपा इकाई ने 11 अगस्त को महानगर के मेयो रोड में आयोजित होने वाली राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की रैली की सुरक्षा के लिए ड्रोन से निगरानी के लिए कोलकाता पुलिस से अनुमति मांगी है।

पश्चिम मेदिनीपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभा में पंडाल गिरने के बाद से प्रदेश भाजपा नेतृत्व फूंक-फूंक कर कदम बढ़ा रही है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने बुधवार को कहा कि हमलोगों ने शनिवार को शाह की होने वाली रैली पर निगरानी रखने के लिए एक ड्रोन उड़ाने की कोलकाता पुलिस से अनुमति के लिए आवेदन किया है।

उन्होंने कहा कि ड्रोन से हमें रैली के दौरान नजर रखने में मदद मिलेगी। यह केवल सुरक्षा कारणों के लिए होगा। उन्होंने कहा कि पार्टी सावधानी पूर्वक उपाय कर रही ताकि फिर से कोई अप्रिय घटना न हो। हमने वॉकी-टॉकीज के लिए भी अनुमति मांगी है ताकि रैली के दौरान पूरी गतिविधियों पर नजर रखने के दौरान एक दूसरे के साथ संपर्क स्थापित रहे।

हालांकि, कोलकाता पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा इस मुद्दे पर कुछ भी तय नहीं हुआ है। हमने अभी तक अनुरोध पर फैसला नहीं लिया है। ड्रोन उपयोग के लिए अनुमति देने से पहले भाजपा ने जो कारण बताते हुए ड्रोन उड़ाने की अनुमति मांगी है उस पर विस्तृत रिपोर्ट जरूरी है।

कोलकाता पुलिस रैली को लेकर पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था की है। भाजपा ने पहले आरोप लगाया था कि रानीरासमणि रोड में रैली के लिए अनुमति मांगी गई थी लेकिन कोलकाता पुलिस ने नहीं दी। हालांकि, बाद में कोलकाता पुलिस ने साफ कहा था कि रैली की अनुमति मेयो रोड में दे दी गई है।